20240220_002009
आगराउत्तर प्रदेशब्रेकिंग न्यूज़

आगरा में 6 लोगों की दर्दनाक मौत के बाद खुली पुलिस की नींद, चला अभियान

20221012_161107

मानक के विपरीत एक्स्ट्रा सीट हटवाई, कई टैम्पो किए सीज

आगरा। गुरुद्वारा गुरु का ताल चौराहे के पास सड़क हादसे में 6 लोगों की मौत होने के बाद जिला प्रशासन और यातायात पुलिस की नींद खुली है। यातायात पुलिस ने सघन अभियान चलाकर एसीपी ट्रैफिक अरीब अहमद के नेतृत्व में भगवान टॉकीज चौराहे पर उन सभी ऑटो की धर पकड़ की। जिनमें मानकों के विपरीत अलग से सीट लगाई गई थी और ज्यादा सवारियां बैठाई गई थी। भगवान टॉकीज चौराहे पर करीब 40 ऑटो पर कार्रवाई की गई है।

आगरा में शनिवार को करीब 3:15 बजे भीषण सड़क हादसा हो गया। आगरा के गुरुद्वारा गुरु का ताल चौराहे के पास एक ऑटो दो ट्रक की चपेट में आ गया। ऐसे में ऑटो में बैठे करीब पांच लोग और साथ चल रही एक महिला की मौत हो गई। घटनास्थल पर पुलिस के आला अधिकारियों समेत जिलाधिकारी भी मौके पर पहुंचे। क्षतिग्रस्त ऑटो के अंदर से किसी तरह शवों को बाहर निकाला और पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

post_1708366561049
Media_1708366826635
Media_1708366753545
post_1708366469781
post_1708366440276

यातायात के नियमों में लापरवाही
आगरा में हुए इस हादसे में यातायात के नियमों की बड़ी लापरवाही सामने आई है। जिसमें बताया गया कि आरटीओ द्वारा तय मानकों के अनुसार ऑटो में ड्राइवर समेत चार लोग बैठ सकते हैं। लेकिन ऑटो में मानकों के विपरीत करीब पांच सवारियां बैठी हुई थी। ऐसे में जब हादसा हुआ तो ड्राइवर समेत सभी सवारियों की मौत हो गई। वहीं बताया गया कि ड्राइवर के बगल से दोनों तरफ ऐक्सट्रा सीट लगा ली गई थी ,उन पर भी सवारी बैठी थी।

पुलिस प्रशासन कार्रवाई में जुटी
हादसे के करीब 2 घंटे बाद ही जिला और पुलिस प्रशासन कार्रवाई में जुट गया। आगरा के भगवान टॉकीज चौराहे पर एसीपी ट्रैफिक अरीब अहमद के नेतृत्व में अभियान चलाया गया। इस दौरान पुलिस द्वारा उन सभी ऑटो पर कार्रवाई की गई जो मानकों के विपरीत सवारियां भरकर चल रहे थे। ट्रैफिक पुलिस द्वारा करीब 40 ऑटो को रोका गया। मानक से ज्यादा बैठी सवारियों को ऑटो से उतारा गया। साथ ही ऑटो चालकों द्वारा जो ऐक्स्ट्रा सीट लगा ली गई थी। उन्हें भी निकाल दिया गया और कई ऑटो का चालान भी किया गया। साथ ही कई सारे ऑटो सीज भी किए गए।

जिला नजर

20221012_124519

Related Articles

Back to top button